राजस्थान में 29 मामलों मे जीका वायरस की पुष्टि


राजस्थान के स्वास्थ्य विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव वीनू गुप्ता ने मंगलवार को बताया कि राज्य में 29 लोगों के जीका वायरस से प्रभावित होने की पुष्टि हुई है। उन्होंने यह भी बताया कि इन 29 में तीन गर्भवती महिलाएं भी हैं। वीनू ने सूचना दी कि 150-200 टीमें प्रभावितों के बारे में पता लगाने के लिए ऑपरेशन चला रही हैं और विभिन्न संस्थाओं ने अबतक जयपुर के 6000 घरों में सर्वे किया है।

अभी तक कुल 29 केस पॉजिटिव पाए गए हैं। बुखार पीड़ितों की भी लिस्ट तैयार की गई है। अगर सैंपल कलेक्ट करने की जरूरत है तो हम वह भी बड़े पैमाने पर कर रहे हैं।' जानकारी के मुताबिक, अब तक 450 सैंपल कलेक्ट किए गए हैं, जिनमें 160 गर्भवती महिलाओं के हैं। 24 सितंबर को राज्य में पहले केस की पुष्टि हुई थी।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने भरोसा दिलाया है कि सबकुछ नियंत्रण में है और घबराने की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने यह भी कहा, 'हमारा सर्विलांस काफी मजबूत है और सभी मामले पकड़े जा रहे हैं।  ईसीएमआर, नैशनल सेंटर फॉर डिजीस कंट्रोल और डीजीएचएस इसपर नजर बनाए हुए हैं।'

जीका वायरस से संक्रमित हर पांच में से एक व्यक्ति में ही इसके लक्षण दिखते हैं। वायरस के शिकार लोगों में जॉइंट पेन, आंखें लाल होना, उल्टी आना, बेचैनी जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। इसके शिकार कुछ ही मरीज को ऐडमिट करने की नौबत आती है। जीका वायरस के मरीज कंप्लीट बेड रेस्ट लें।

वायरस से ऐसे बचें 

  • घर में मच्छर न पनपने दें, मच्छरदानी का इस्तेमाल करें।
  • जो महिलाएं लंबे ट्रैवल से लौटी हैं खासतौर से उन जगहों से जहां वायरस फैला हुआ है, तो अगले 8 सप्ताह तक गर्भधारण करने से बचें ।
  • घर की खिड़कियों और दरवाजों पर जाली जरूरी लगवाएं, जाली वाले दरवाजे हमेशा बंद रखें।
  • अगर आपको डायबीटीज, हाइपरटेंशन, इम्यूनिटी डिसऑर्डर जैसी दिक्कतें हैं तो यात्रा करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें ।
  • यात्रा से आने के दो सप्ताह के अंदर अगर आपको हल्का बुखार होता है तो तुरंत डॉक्टर से मिलें।


Share on Google Plus

About Team CR

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment