राजस्थान विधानसभा के सिंगल पैनल वाली 52 उम्मीदवार की पहली लिस्ट को दिया अंतिम रूप

राजस्थान विधानसभा के सिंगल पैनल वाली 52 उम्मीदवार की पहली लिस्ट को दिया अंतिम रूप

कांग्रेस में स्क्रीनिंग कमेटी बनने के साथ ही जुलाई के शुरुआत में उम्मीदवार चयन के लिए प्रक्रिया शुरू हो गई थी, राहुल गांधी के सर्वे के बीच कांग्रेस में यह भी चर्चा आम है कि आधे से ज्यादा टिकट तो पहले से तय माने जा रहे हैं, हालांकि इस बार 50 के करीब सीटों पर युवाओं को मौका मिलने की भी उम्मीद है|

कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी ने राजस्थान में टिकट बंटवारे को लेकर रणनीति बना ली है, कमेटी अब एक नए फार्मूले के तहत टिकटों का बंटवारा करेगी, सूत्रों की मानें तो कमेटी ने सिंगल पैनल वाली 52 उम्मीदवार की पहली लिस्ट को अंतिम रूप दिया है और इन संभावित 52 उम्मीदवारों को सूचना भी पहुंचा दी गई है, इन सिंगल पैनल वाली विधानसभा के उम्मीदवारों के नाम की औपचारिक घोषणा अक्टूबर के तीसरे हफ्ते में करने की संभावना है, राजस्थान में विधानसभा के 200 उम्मीदवारों के चयन को लेकर कांग्रेस नेतृत्व माथापच्ची करता नजर आया, पार्टी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रदेश की 100 से ज्यादा सीटों पर बैठक में तीन-तीन उम्मीदवारों के पैनल तय कर लिए हैं, इसके अलावा 20 सीटों पर सिंगल पैनल नाम पर सहमति बन गयी है, स्क्रीनिंग कमेटी इस पैनल को शुक्रवार शाम जयपुर में होने वाली प्रदेश इलेक्शन कमेटी की बैठक में रखेगी, बैठक के दौरान अन्य चुनावी कमेटियों के चेयरमैन को भी बुलाया गया है, बैठक के दौरान तय हुए उम्मीदवारों के नाम पर प्रदेश इलेक्शन कमेटी की राय ली जाएगी, उसके बाद जिन-जिन नामों पर आम सहमति बनेगी उसे केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) को भेजा जाएगा, कांग्रेस सूत्रों के अनुसार पार्टी उन 91 सीटों पर माथापच्ची कर रही है जो दो बार से लगातार हार रही है, आज तक हुए नामों पर आम सहमति नहीं बन पाने के चलते बैठक लंबी खिंची, दरअसल, पार्टी ने जो आंतरिक सर्वे करवाया है उसमें और प्रभारी सचिवों की तरफ से दिए गये नामों में बड़ा अंतर है, इसीलिए स्क्रीनिंग कमेटी फूंक-फूंक कर कदम रख रही है, स्क्रीनिंग कमेटी सदस्य अब उन विधानसभाओं में जाकर जमीनी आकलन कर रिपोर्ट कुमारी शैलजा को सौंपेंगे |

इसके अलावा पार्टी अलाकमान लोकतांत्रिक जनता दल (शरद यादव), एनसीपी और लेफ्ट को कुछ सीटें दे कर महागठबंधन बनाना चाहती है, स्क्रीनिंग कमेटी उन सीटों पर भी विचार कर रही है जो इन दलों द्वारा मांगी गई हैं, वहीं कांग्रेस आलाकमान ने स्क्रीनिंग कमेटी को 30 महिला उम्मीदवारों और युवा चेहरों को भी तरजीह देने के निर्देश दिए हैं, कांग्रेस सचिव तरुण कुमार ने बताया कि सीटों को लेकर लंबी चर्चा हुई और कांग्रेस सही दिशा में प्रयास कर रही है,बैठक में प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे, संगठन महासचिव अशोक गहलोत, पीसीसी चीफ सचिन पायलट, स्क्रीनिंग कमेटी चैयरमेन कुमारी शैलजा, चारों सचिव तरुण कुमार, देवेंद्र यादव, काजी निजामुद्दीन, विवेक बंसल और स्क्रीनिंग कमेटी सदस्य साकिर शाकिर सनादी तथा ललितेशपति त्रिपाठी मौजूद रहे, बैठक में प्रदेश की करीब 100 सीटों के आवेदनों को लेकर चर्चा हुई, बैठक सुबह शुरू हुई जो देर रात तक चली, इसमें अधिकतर सीटों पर तीन नाम, कुछ में दो और कुछ सीटों पर सिंगल नामों पर चर्चा हुई, चर्चा के आधार पर ही समिति ने नए पैनल तैयार किए हैं, बैठक के दौरान किसी भी सीट को लेकर कोई संशय की स्थिति सामने नहीं आई, सभी सीटों पर लगभग आम सहमति बनती चली गई, इसके अनुसार पैनल तैयार होने और सीईसी की मंजूरी मिलने के बाद 20 अक्टूबर तक पहली सूची जारी होने की उम्मीद की जा रही है, इसके बाद अगली सूची जारी की जाएगी, शेष सीटों के लिए कांग्रेस ने उम्मीदवार चयन के कुछ मानक तय किए हैं, बताया जा रहा है कि स्क्रीनिंग कमेटी ने आलाकमान और प्रदेश नेताओं के साथ बैठक के बाद तय किया है कि एक ही जगह से दो बार से हारे हुए उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया जाए, उनकी जगह नए चहरेों को मौका दिया जाए, लेकिन साथ ही यह शर्त भी रखी है कि विकल्प नहीं होने पर हारे हुए को एक बार फिर मौका दिया जा सकता है, वहीं राहुल गांधी की मंशा के अनुरूप कुल उम्मीदवारों में से 35 प्रतिशत यानि कम से कम 70 उम्मीदवार 50 साल से कम उम्र के युवा चेहरों को देना तय किया गया है, इस बार कांग्रेस के 200 उम्मीदवारों में करीब 30 महिलाओं को यानि 15 प्रतिशत टिकट देने का तय किया गया है, जानकारी के अनुसार अब तक करीब 100 विधानसभाओं की स्क्रीनिंग हो चुकी है, बताया जा रहा है कि तमाम माध्यमों से मिले फीडबैक के आधार पर राजस्थान की 200 सीटों में से करीब 90 सीटों पर सिंगल दावेदार हैं|

इसके लिए कमेटी ने अलग-अलग सर्वे रिपोर्ट, जिला अध्यक्ष, से संबंधित, सीनियर नेताओं से, प्रदेश प्रभारी, प्रभारी सचिवों और पीसीसी सहित कई स्तर की स्क्रीनिंग रिपोर्ट लेकर सिंगल पैनल की फाइनल लिस्ट बनाई है, वहीं एक से ज्यादा उम्मीदवार वाले विधानसभा क्षेत्रों के लिए अलग से क्राइटेरिया तय किया गया है, सिंगल पैनल वाले उम्मीदवारों की विधानसभाओं के लिए चुनाव की घोषणा के साथ ही जारी करने के प्रयास चल रहे हैं, इसके बाद तीन स्तरीय सूची तैयार करके सीडब्ल्यूसी को भेजा जाएगा जो नामों पर अंतिम मुहर लगाने का काम करेंगी|
Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment