अगले 24 घंटे में राजस्थान के कुछ इलाकों में हो सकती है तेज अंधड़ के साथ बारिश


राजस्थान में पश्चिमी विक्षोभ और साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम से मौसम ने एक बार फिर से पलटा खाया है। जिसके चलते राजधानी में तेज रफ्तार से हवाएं चली और छितराई बौछारें गिरी। वहीं प्रदेश के कई जिलों में अंधड़ के साथ बारिश ने मौसम का मिजाज बदल दिया।

अरब सागर के दक्षिण पूर्वी हिस्से में अगले चौबीस घंटे मे एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम सक्रिय होने की संभावना है। जिससे प्रदेश के कई जिलों में बारिश की संभावना बनी हुई है।

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार उत्तरी पाकिस्तान की ओर से हिमालय की ओर बढ़ रहे पश्चिमी विक्षोभ से प्रदेश के पूर्वी जिलों में बादलों की आवाजाही बढ़ी है। विंड पैटर्न बदलने पर बीती शाम तेज रफ्तार से चली पुरवाई हवा के साथ छितराई बौछारें भी गिरी हैं। वहीं दूसरी तरफ अरब सागर के दक्षिण पूर्वी हिस्से में अगले चौबीस घंटे में एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम सक्रिय होने की संभावना है। जो अगले 48 घंटे में उत्तर पश्चिमी राज्यों का रुख करेगा। ऐसे में प्रदेश में भी अगले चौबीस घंटे में तेज रफ्तार से सतही हवाएं चलने व कुछ स्थानों पर छितराई बौछारें गिरने की उम्मीद है।

राजधानी में आज सुबह छितराए बादलों की आवाजाही बनी रही है वहीं स्थानीय मौसम केंद्र के अनुसार शहर में आज बादल छाए रहने पर दिन में धूप की आंख मिचौनी रहने की संभावना है। बीती शाम चली पुरवाई हवा ने राजधानी में मौसम का मिजाज बदल दिया। दिनभर झुलसाती गर्मी का सामना कर रहे शहरवासियों को बीती शाम को राहत मिली वहीं शहर के कुछ इलाकों में गिरी छितराई बौछारों से तापमान में आई गिरावट से मौसम सुहावना हो गया।

श्रीगंगानगर में बुधवार को अचानक आए तेज अंधड़ ने फसलों को बहुत नुकसान पहुंचाया है। तेज हवा और बरसात पाकिस्तान यानी पश्चिम दिशा की तरफ से आया। इससे हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर जिले में भी फसलों के काफी नुकसान की आशंका है। मौसम विभाग ने प्रदेश के कई जिलों में बारिश की आशंका जताई थी। बिन मौसम हो रही बरसात ने किसान और व्यापारी वर्ग की चिंता बढ़ा दी है। बरसात और आंधी से फसलों को नुकसान होगा। क्योंकि इस समय ग्वार, मूंग की फसल कटाई चल रही है। वहीं नरमा और कपास भी खिला हुआ है। ऐसे में बिन मौसम हुई बरसात से किसानों को चारों तरफ नुकसान ही नुकसान होना है।

अलवर जिले में भी बुधवार को अचानक मौसम का रुख बदला और करीब आधा घंटे तक तेज बारिश हुई। तेज हवा के कारण कई जगह पेड़ और बिजली के कई पोल व तार टूट गए। इससे कई क्षेत्रों में बिजली गुल हो गई। इससे लोगों को काफी असुविधा का सामना करना पड़ा। शहर में सेन्ट्रल मार्केट के समीप एक पुराना पेड़ टूट कर गिर पड़ा। इससे वहां खड़ी दो कार व तीन बाइक दबकर क्षतिग्रस्त हो गई। उधर, मॉर्डन स्कूल के पास पेड़ गिरने से यातायात जाम हो गया।
Share on Google Plus

About Team CR

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment