फिर आशंकाओं में घिरी अयोध्या, फिर गरमाया राम मंदिर निर्माण मसला

फिर आशंकाओं में घिरी अयोध्या, फिर गरमाया राम मंदिर निर्माण मसला

राम मंदिर के मुद्दे पर रविवार को विश्व हिंदू परिषद ने धर्मसंसद का ऐलान किया है. अयोध्या में संघ परिवार का रविवार को राम मंदिर के लिए धर्म सभा का आयोजन है. ऐसे में लाखों लोगों की जुटने की संभावना है. इसमें 2 लाख लोगों के आने का दावा किया जा रहा है. अयोध्या में विहिप और शिवसेना के कार्यक्रमो के चलते बड़ी संख्या में राम भक्तों को इकट्ठा के होने को लेकर अयोध्या में सरगर्मियां तेज होती जा रही है.

शनिवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी पहुंच गए हैं. वह यहां अपने परिवार के साथ आएं हैं साथ ही महाराष्ट्र से साथ में कई शिवसैनिकों को भी लाया गया है.

वीएचपी और शिवसेना के लाखों लोगों के अयोध्या में जुटने से स्थानीय मुस्लिम परिवार डर के साये में हैं. वहीं, आरएसएस राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के जरिए इस खौफ को कम करने में जुटा है. एक तरफ जहां आम अयोध्यावासी अपने अपने घरों के लिए राशन के सामानों जुटा रहे हैं तो वही कुछ अल्पसंख्यक समुदाय के लोग आशंकाओ को देखते हुए रिश्तेदारों के घर का रुख कर गए हैं.

अयोध्या में रविवार को होने जा रहे धर्मसंसद को लेकर विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा है कि पिछले साढ़े चार साल में राम मंदिर नहीं बना इसलिए ही आंदोलन कर रहे हैं. कल सभी 543 लोकसभा क्षेत्रों में कार्यक्रम है.

खबरों के अनुसार आलोक कुमार ने कहा, 'राहुल गांधी अगर खुल कर कह दें कि वो राम मंदिर बनवाएंगे तो हम उनका समर्थन करेंगे हम बीजेपी की कोई मदद नहीं कर रहे न कोई माहौल नहीं बना रहे हैं.  उन्होंने कहा कि 1992 जैसा कोई माहौल नहीं बना रहे  हैं. मैं ये वादा करता हूं कि हमारा कोई कार्यकर्ता हिंसा नहीं करेगा, कानून व्यवस्था ख़राब नहीं होगी, शांतिपूर्ण तरीक़े से ये कार्यक्रम होंगे.

वीएचपी नेता ने यह भी कहा कि उनका और शिवसेना का कार्यक्रम अलग -अलग है. हमने पहले 5 अक्टूबर को इस कार्यक्रम की घोषणा की थी. हमारा कार्यक्रम उनसे अलग है. आलोक कुमार ने बीएसपी सुप्रीम मायावती से पूछा कि पहले वह यह बताएं की राम मंदिर पर उनका क्या स्टैंड है और कोई भी पार्टी राम मंदिर बनने का विरोध नहीं कर रही है.

समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता और पूर्व मंत्री तेज नारायण पवन पांडे में सीधे-सीधे विश्व हिंदू परिषद पर निशाना साधते हुए प्रदेश और केंद्र सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि आज अयोध्या में दहशत का माहौल है. उन्होंने कहा कि अयोध्या में हिंदू हो, मुस्लिम हो, सिख हो या फिर ईसाई सभी दहशत में है. अयोध्या के लोगों को डराया जा रहा है. शिवसेना का चरित्र शुरू से ही दहशत और आतंक का रहा हो वह आज अयोध्या में आतंक फैला रहे हैं.
हालांकि संघ परिवार अपने संगठन राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के माध्यम से इस दहशत को कम करने में जुटा है. उन्होंने धर्म संसद के लिए सैकड़ों मुसलमानों की टोली अयोध्या में लाने की योजना भी है. उधर योगी सरकार के मुस्लिम चेहरे मोहसिन रजा ने कहा सुरक्षा चाक-चौबंद है किसी को डरने की जरूरत नहीं है, जहां तक अखिलेश यादव के डर और आशंका का सवाल है तो बीजेपी किसी कारसेवक की हत्या नहीं होने देगी.

वही अब उद्धव ठाकरे के अयोध्या पहुंचते ही शिवसेना ने अपने कार्यक्रम में अचानक बदलाव किया है. शिवसैनिक शनिवार को ही अयोध्या से मुंबई के लिए विशेष ट्रेन से रवाना हो जाएंगे. इस बाबत शिवसेना ने रेलवे के अधिकारियों को पत्र लिखकर जानकारी दी है. जानकारी के मुताबिक यह बदलाव विश्‍व हिंदू परिषद (विहिप) के कार्यकर्ताओं और शिव सैनिकों के बीच टकराव की स्थिति को रोकने के लिए किया गया है. इससे पहले तय कार्यक्रम के मुताबिक शिव सैनिकों को रविवार को मुंबई वापस जाना था. वहीं अयोध्या में मंदिर निर्माण की मांग को लेकर विहिप ने रविवार को 'धर्मसभा' का आयोजन किया है. विहिप ने दावा किया है कि 'धर्मसभा' में एक लाख से ज़्यादा लोग शामिल होंगे.

वही शिवसेना प्रमुख शाम छह बजे सरयू तट पर आरती कार्यक्रम में शामिल होंगे. अयोध्या में रात में रूकने के बाद रविवार को सुबह नौ बजे रामलला का दर्शन करेंगे. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए अपनी पार्टी के अभियान को तेजी देने के उद्देश्य से ठाकरे ने 'पहले मंदिर, फिर सरकार' का नारा दिया है. अयोध्या के लक्ष्मण किला मैदान में उद्धव ठाकरे की रैली को लेकर तैयारी पूरी हो गई है. मंच पर बड़ा पोस्टर लगाया गया है. जिसमें बाला साहब ठाकरे की तस्वीर के साथ उद्धव ठाकरे की फोटो लगी है. रैली के दौरान मैदान में संतों के बैठने की गद्दी और छतरी और हवन कुंड भी तैयार किया गया है.

Share on Google Plus

About Team CR

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment