मुफ्त दवा योजना को बनाएंगे प्रभावी चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा


राज्य की नवगठित कांग्रेस सरकार में मंत्रियों के विभाग बंटवारे का मामला बुधवार देर रात सुलझ पाया, इससे पहले दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, डिप्टी सीएम सचिन पायलट, एआईसीसी महासचिव व राज्य प्रभारी अविनाश पांडे और पर्यवेक्षक के.सी. वेणुगोपाल की बैठक हुई, जिसमें नए मंत्रियों को दिए जाने वाले विभागों पर चर्चा हुई, इसके बाद रात को मंत्रियों में विभागों का बंटवारा कर दिया गया।
कांग्रेस में मंत्री डॉक्टर रघु शर्मा को इस बार चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, आयुर्वेद एवं भारतीय चिकित्सा, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं (ईएसआई) और सूचना व जनसंपर्क विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है, जिसके बाद आज करीब 12 बजे रघु शर्मा ने स्वास्थ्य विभाग में अपना पदभार ग्रहण किया, पदभार ग्रहण करते समय विधिवत पूजा की गई इस समय उनका परिवार भी मौजूद रहा।
डॉ. रघु शर्मा का जन्म 26 जुलाई, 1958 को ग्राम सावर, तहसील केकड़ी, जिला अजमेर में हुआ, विवाह 9 नवम्बर, 1989 को श्रीमती वीरा शर्मा के साथ हुआ, एक पुत्र व एक पुत्री हैं, बी.एस.सी, एल.एल.बी., एम.बी.ए. व मैनेजमेन्ट में राजस्थान विश्वविद्यालय से पी.एच.डी. की डिग्री प्राप्त की है, तेरहवीं राजस्थान विधानसभा क्षेत्र से सदस्य निर्वाचित रहे हैं, एक फरवरी 2018 को उप चुनाव में सोलहवीं लोकसभा के लिए अजमेर लोकसभा क्षेत्र से सांसद निर्वाचित हुए, वर्तमान में पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए केकड़ी (अजमेर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
मीडिया से बातचीत में रघु शर्मा ने कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस ने प्रदेश में जो मुफ्त दवा और जांच योजना शुरू की थी उसे भाजपा सरकार ने कमजोर कर दिया था, ऐसे में सरकार आम जन के बेहतर इलाज के लिए इन योजनओं पर वापस काम करेगी, शर्मा ने पदभार के बाद कहा कि जो जिम्मेदारी सौंपी गई है उसे लेकर मैं पूर्ण निष्ठा के साथ काम करुंगा और विभाग की छवी बनाए रखुंगा।
आम जन को किस प्रकार बेहतर इलाज मिल सके इसको लेकर हमारी सरकार काम करेगी, सरकार ने चुनाव से पहले जो घोषणा पत्र जारी किया था उसमें सरकार ने जितने भी वादे आमजनता से किए थे उन्हें धरातल पर उतारना हमारा मुख्य काम रहेगा।
प्रदेश में स्वाइन फ्लू ने एक बार फिर पैर पसारना शुरू कर दिया है और चिकित्सा के नए मुखिया ने भी माना की चुनौती काफी मुश्किल है लेकिन हमारी सरकार संवेदनशीलता से भविष्य में आने वाली इन चुनौतियों का सामना करने को तैयार हैं।
जो मौसमी बीमारियां है इसको लेकर बडे स्तर पर तैयारी की जाएगी इसके अलावा पिछली सरकार ने जो अधूरे प्रोजेक्ट छोड़े थे उन्हें फिर से एक नए रुप में धरातल पर लाया जाएगा ताकि आमजन को स्वास्थ्य से संबंधित परेशानी नहीं उठानी पडी।
Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment