मिशेल से CBI की सख्त पूछताछ, यूथ कांग्रेस के जोसेफ ने कोर्ट में की मिशेल की पैरवी

मिशेल से CBI की सख्त पूछताछ, यूथ कांग्रेस के जोसेफ ने कोर्ट में की मिशेल की पैरवी
वकील अल्जो के जोसेफ मिशेल की पैरवी कर रहे हैं। मिशेल की पेशी के बाद उसके वकील अल्जो के जोसेफ कांग्रेस मुख्यालय में दिखाई दिए। जिसके बाद यह खबर सामने आई कि वे भारतीय युवा कांग्रेस में लीगल डिपार्टमेंट के नेशनल इंचार्ज हैं। मामले के तूल पकड़ने के बाद कांग्रेस ने उन्हें पार्टी से निकाल दिया है। वहीं, इस विवाद पर जोसेफ ने कहा, ' मैं एक वकील हूं अपने पेशे के तहत मैंने इस केस में मिशेल की तरफ से पैरवी की, अपने पेशे के दौरान अगर मैं किसी मुवक्किल की पैरवी करता हूं, तो यह मेरी ड्यूटी है। उस वक्त मेरा किसी पार्टी (कांग्रेस) से कोई लेना-देना नहीं होता। मीडिया से बातचीत में जोसेफ ने आगे बताया कि, 'मेरे संबंध कांग्रेस से अलग हैं और मेरा पेशा अलग है। मैं अपने एक दोस्त के माध्यम से इटली के एक वकील के संपर्क में आया जिससे मुझे इस मामले में मिशेल की पैरवी करने का मौका मिला इसलिए मैंने इसे सहजता से स्वीकार किया।

उन्होंने कहा कि मैं यूथ कांग्रेस के लीगल डिपार्टमेंट का कोऑर्डिनेटर हूं, लेकिन यह मेरा प्रोफेशन है. इसमें कांग्रेस का कोई लेना देना नहीं है. मैं अपनी नौकरी कर रहा हूं. यह मेरा प्रोफेशन है. प्रोफेशनल काम करने के लिए बीजेपी वाले इतना हल्ला क्यों कर रहे हैं? जेटली साहब तो बहुत लोगों के लिए अपील करते हैं. अल्जो जोसेफ ने कहा कि यह मेरा ब्रेड एंड बटर है. मेरे पास कोई बिजनेस नहीं है. मैं दिल्ली में केरल से आया हूं. मैं यहां पर प्रैक्टिस कर रहा हूं. मिशल के प्रत्यर्पण पर उन्होंने कहा कि अभी तक मुझे पेपर नहीं मिला है इसलिए मैं इस पर कमेंट नहीं कर सकता.

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में बिचौलिए की भूमिका निभाने वाले क्रिश्चियन मिशेल को 5 दिन की सीबीआई कस्टडी में भेज दिया गया है| क्रिश्चियन मिशेल (57) के दिल्ली पहुंचने के बाद सीबीआइ ने उससे सघन पूछताछ की। उसे रात में सिर्फ दो घंटे सोने दिया गया। बता दें कि ब्रिटिश नागरिक मिशेल को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से प्रत्यर्पित करके मंगलवार रात दिल्ली लाया गया था। सूत्रों ने बताया, सीबीआइ मुख्यालय पहुंचने पर उसे बेचैनी का दौरा पड़ा, लिहाजा उसके लिए वहां डॉक्टर बुलाना पड़ा। इलाज के बाद उससे रिश्वत की रकम के बंटवारे और सौदे से जुड़े दस्तावेजों की पहचान को लेकर सघन पूछताछ की गई। नाश्ते से पहले उसे सुबह चार से छह बजे तक ही सोने दिया गया। छह बजे के बाद सीबीआइ के विशेष जांच दल के अधिकारियों ने उससे फिर पूछताछ की। बुधवार शाम करीब चार बजे उसे पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे पांच दिन की सीबीआइ हिरासत में भेज दिया गया। इससे पहले सीबीआइ के संयुक्त निदेशक साई मनोहर के नेतृत्व में सीबीआइ की एक टीम मंगलवार रात करीब 10.35 बजे उसे यूएई से दिल्ली लेकर आई। औपचारिकताएं पूरी करने के बाद उसे इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर ही सीबीआइ ने हिरासत में ले लिया था। वहां से उसे पुलिस की कारों और बाइक के छोटे से काफिले में सीबीआइ मुख्यालय लाया गया। देर रात करीब 1.20 बजे सीबीआइ मुख्यालय पहुंचने पर उसे 11 मंजिला इमारत के भूतल पर स्थित लॉकअप में रखा गया।

सीबीआइ मिशेल से जानना चाहती है कि फिनमैक्केनिका और अगस्ता वेस्टलैंड से उसकी कंपनियों को मिली 283 करोड़ रपये (4.22 करोड़ यूरो) की रकम को उसने आगे किस तरह वितरित किया ताकि रिश्वत की रकम के वितरण की श्रृंखला (मनी ट्रेल) स्थापित की जा सके।

सीबीआइ का आरोप है कि मिशेल ने इस मामले में जांच से बचने की कोशिश की इसलिए उसका मामला अन्य बिचौलिए गुइडो हश्के से अलग है। हश्के इटली में मुकदमे का सामना कर रहा है। उसके अलावा सौदे में एक और बिचौलिए कार्लो गेरोसा का नाम भी आया था। सीबीआइ ने मिशेल के खिलाफ पिछले साल सितंबर में आरोप पत्र दाखिल किया था। एजेंसी के प्रवक्ता ने बताया, 'नई दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में विशेष सीबीआइ जज ने 24 सितंबर, 2015 को खुला गैर जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। इसके आधार पर इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया और फरवरी, 2017 में उसे दुबई में गिरफ्तार कर लिया गया, तभी से मिशेल कैद में था।

आरोप है कि उसने सह-आरोपितों के साथ मिलकर आपराधिक साजिश रची और वीवीआईपी हेलिकॉप्टर की उड़ान सीमा को 6,000 मीटर से घटाकर 4,500 मीटर करवा लिया। सह-आरोपितों में पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी, उनके परिवार के सदस्य और कई नौकरशाह शामिल हैं। उड़ान सीमा घटने की वजह से ही अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर का कांट्रेक्ट पाने की दौड़ में आ सकी थी। आठ फरवरी, 2010 को रक्षा मंत्रालय ने अगस्ता वेस्टलैंड के साथ 3,600 करोड़ रुपये में 12 वीवीआईपी हेलिकॉप्टर की खरीद का सौदा किया था। लेकिन अनुबंध शर्तो के उल्लंघन और कॉन्ट्रैक्ट पाने के लिए रिश्वत बांटने के आरोप लगने के बाद भारत सरकार ने एक जनवरी, 2014 को यह सौदा रद्द कर दिया था।

सरकारी सूत्रों ने बताया कि रिश्वत की रकम लाने के लिए भारत और विदेश में मुखौटा कंपनियां बनाने को लेकर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी मिशेल से पूछताछ करेगा। इसके लिए ईडी मिशेल की अलग से हिरासत की मांग कर सकता है या सीबीआइ के साथ ही पूछताछ कर सकता है। एजेंसी इस मामले में पूरक आरोप पत्र भी दायर कर सकती है जिसमें अन्य आरोपितों की भूमिका का विवरण होगा। ब्रिटेन ने अपने नागरिक क्रिश्चियन मिशेल तक तत्काल राजनयिक पहुंच (काउंसलर एक्सेस) दिए जाने की मांग की है। ब्रिटिश उच्चायोग के प्रवक्ता ने बताया कि भारतीय अधिकारियों से मिशेल की परिस्थितियों के बारे में तत्काल जानकारी मांगी गई है।

वही भाजपा ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस पर एक के बाद एक कई हमले किए। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि मिशेल के भारत आने कांग्रेस की नींद उड़ गई है। पात्रा ने कहा कि मोदी सरकार की कोशिश से मिशेल को भारत लाया जा सका है, लेकिन मिशेल के भारत आने से कांग्रेस को बहुत दुख हुआ है। मिशेल मामले पर कांग्रेस की बौखलाहट ने कांग्रेस का दोहरा चेहरा सबके सामने ला दिया है। कांग्रेस पर बड़ा हमला करते हुए भाजपा ने आरोप लगाया कि 10 जनपथ के कहने पर मिशेल को बचाने की कोशिश की जा रही है।

संबित ने कहा कि कांग्रेस के वकील ही बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं, जोसफ के केस लड़ने पर भी सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि जोसफ को 'किसी' ने केस लड़ने को कहा। आखिर यह 'किसी' कौन है? क्रिश्चियन मिशेल मामले से जुड़े एक वकील को पार्टी से बाहर करना, कांग्रेस का महज एक ड्रामा है।

पात्रा ने कहा कि अल्जो जोसेफ के अलावा मिशेल मामले की पैरवी कर रहे दो अन्य वकीलों का भी कांग्रेस से नाता है। विष्णु शंकर केरल कांग्रेस नेता के बेटे हैं, जबकि श्रीराम प्रकट एनएसयूआई के सदस्य रह चुके हैं। तीनों कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और वकील सलमान खुर्शीद व कपिल सिब्बल के आधीन काम कर चुके हैं।

अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर और संदीप दीक्षित का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में पार्टी से हटाए जाने का ड्रामा हमने मणिशंकर अय्यर और संदीप दीक्षित के मसले में भी देखा है। पहले पार्टी से निकालते हैं, उसके बाद चुनाव खत्म हो जाता है और फिर उन्हें प्रमोशन देकर AICC का सेक्रेटरी इत्यादि बना दिया जाता है। उन्होंने कहा कि संदीप दीक्षित को भी प्रमोशन दिया गया है। उनके इस बयान पर संदीप दीक्षित भड़क गए हैं। उन्होंने संबित पात्रा पर कानूनी कार्रवाई करने की धमकी दी है। दीक्षित ने कहा, 'संबित पात्रा ने आज अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मुझे एक बार पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था और फिर कांग्रेस में वापस ले लिया गया। यह एक कोरा झूठ है, ऐसी कोई बात नहीं हुई। मैं उन्हें माफी मांगने के लिए 24 घंटे का समय देता हूं या फिर मैं कानूनी नोटिस भेजूंगा।

वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान में चुनाव प्रचार के अंतिम दिन बुधवार को राफेल सौदे को मुद्दा बना रही कांग्रेस को जवाब अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर में हुई गड़बड़ी से दिया। मोदी ने कहा, 'हम यूपीए सरकार के समय हुए हेलीकॉप्टर घोटाले के एक राजदार को पकड़ कर लाए हैं। अब नामदार का परिवार कांप रहा है कि पता नहीं राजदार क्या राज खोलेगा।'

वही क्रिश्चियन मिशेल  को भारत लाने पर केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह बड़ी सफलता मानते हैं. उनका कहना है कि यह अपने देश के लिए बड़ी सफलता है. मिशेल को यहां पर थर्ड कंट्री से लाया गया. ब्रिटिश नागर‍िक को लाना एक बहुत बड़ी जीत है. इससे पूछताछ में कई बातें  सामने आएंगी. बीच में किस-किसने रिश्वत ली है, इन सब का खुलासा होगा और पूरा देश जानेगा.  मुझे विश्वास है कि सीबीआई ने इसको लाई है तो पूछताछ में कई अहम खुलासे होंगे. जो लोग अब तक बचते रहे, वह बेनकाब होंगे.

जयपुर से प्रकाशित एवं प्रसारित न्यूज़ पेपर

दैनिक चमकता राजस्थान

सम्बन्धित खबरें पढने के लिए यहाँ देखे
See More Related News
post business listing – INDIA
Follow us: Facebook
Follow us: Twitter
Google Plus
Share on Google Plus

About Team CR

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment