प्रधानमंत्री मोदी का प्रयागराज और रायबरेली का आज एक दिवसीय दौरा

प्रधानमंत्री मोदी का प्रयागराज और रायबरेली का आज एक दिवसीय दौरा - पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी की हार के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने एक दिवसीय दौरे में आज प्रधानमंत्री प्रयागराज और रायबरेली जाएंगे. अपने रायबरेली दौरे पर पीएम मोदी जहां मॉडर्न रेल कोच फैक्ट्री का लोकार्पण करेंगे|  प्रधानमंत्री अपने रायबरेली दौरे पर 1100 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण तथा शिलान्यास करेंगे. वह हमसफर रेल डिब्बों को हरी झंडी दिखाने के बाद जनसभा को भी सम्बोधित करेंगे और पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के बाद मोदी की यह पहली जनसभा भी होगी. प्रधानमंत्री की इस यात्रा को तीन राज्यों में बीजेपी की हार और कांग्रेस की जीत के लिहाज़ से भी काफी अहम माना जा रहा है.

प्रधानमंत्री मोदी का प्रयागराज और रायबरेली का आज एक दिवसीय दौरा

हालांकि पीएम मोदी का ये कार्यक्रम पहले से ही तय था लेकिन लखनऊ में वरिष्ठ पत्रकार सुनीता ऐरन कहती हैं कि इसके ज़रिए नरेंद्र मोदी पार्टी कार्यकर्ताओं में जोश भरने की कोशिश करेंगे. वरिष्ठ पत्रकार सुनीता ऐरन के मुताबिक़, "सीधे कांग्रेस की सबसे बड़ी नेता के क्षेत्र में हमला बोलकर पीएम मोदी एक तरह से 2019 के चुनाव की आक्रामक शैली का आग़ाज़ करना चाह रहे हैं. रफ़ाल मुद्दे पर जिस तरह से राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी उन्हें घेर रही है, सुप्रीम कोर्ट से जिस तरह से उन्हें राहत मिली है, उसके ज़रिए कांग्रेस पार्टी को घेरने की रायबरेली से बेहतर जगह क्या होगी. पिछले चुनाव में बीजेपी ने अमेठी पर तो फ़ोकस किया था लेकिन रायबरेली पर नहीं. लेकिन इस बार शायद ये दोनों सीट उसके निशाने पर हों.

सुनीता ऐरन का ये कहना है कि बड़े नेताओं की सीट को किसी भी क़ीमत पर जीत लेने की बीजेपी ने नई परंपरा शुरू की है. वो कहती हैं, "बीजेपी के किसी बड़े नेता ने अमेठी-रायबरेली में रैली नहीं की और न ही कांग्रेस नेता सोनिया गांधी ने कभी अटल जी के क्षेत्र लखनऊ में रैली की. हां, मोहनलालगंज जैसे लखनऊ के नज़दीकी इलाक़े में भले ही सोनिया ने सभा की लेकिन लखनऊ में नहीं. पर, राजनीति में अब ये शिष्टाचार वाला दौर ख़त्म हो चुका है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने एक दिवसीय दौरे पर लखनऊ पहुंच चुके हैं. प्रधानमंत्री यहां से रायबरेली और फिर प्रयागराज जाएंगे. राज्यपाल राम नाइक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया. प्रधानमंत्री यहां से रायबरेली और फिर प्रयागराज जाएंगे. पीएम मोदी अपने प्रयागराज दौरे में कुंभ को लेकर तैयार 366 करोड़ की योजनाओं को जनता को समर्पित करेंगे. इसके साथ ही देश में सबसे कम समय में तैयार हुए इन्ट्रीग्रेडेड कन्ट्रोल कमांड सेन्टर और सिविल एयरपोर्ट टर्मिनल का भी लोकार्पण करेंगे.

प्रधानमंत्री मोदी का प्रयागराज और रायबरेली का आज एक दिवसीय दौरा - प्रधानमंत्री के दौरे में केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु के साथ ही यूपी के गवर्नर राम नाईक, सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या के साथ ही योगी कैबिनेट के कई मंत्री मौजूद रहेंगे. पीएम मोदी के दौरे को लेकर प्रशासन की ओर से सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम भी किए गए हैं.

पीएम रविवार को जनसभा में जब बोलेंगे, तो कांग्रेस ही उनके निशाने पर होगी।प्रधानमंत्री मोदी का यह दौरा राजनीति के लिहाज से भी बहुत अहम है। प्रदेश की इस लोकसभा सीट को गांधी परिवार और कांग्रेस का गढ़ कहा जाता है। यहां की सांसद यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी हैं और कभी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी इस क्षेत्र से चुनाव लड़ चुकी हैं। यहां की ही जनता ने एक बार इंदिरा गांधी को हरा भी दिया था। उसके बाद से सिर्फ दो बार ही यह सीट कांग्रेस के खाते में नहीं आई। माना जा रहा है कि पीएम मोदी आज सोनिया गांधी के गढ़ से उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव का शखंनाद करेंगे।

कांग्रेस की अगुवाई वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की अध्यक्ष सोनिया तथा उनसे पहले भी नेहरू-गांधी परिवार का राजनीतिक दुर्ग रहे रायबरेली मे मोदी का यह पहला दौरा होगा. पार्टी सूत्रों की मानें तो देश की सियासत के लिहाज से रायबरेली सदस्यीय सीट हमेशा से ही महत्वपूर्ण रही है. गांधी परिवार की इस सीट को अपने खाते में करने का सपना बीजेपी और संघ का लंबे समय से रहा है.

रविवार को जिले में लालगंज का आधुनिक रेल डिब्बा कारखाना कई नई चीजें देखेगा। सबसे पहले तो वह देखकर मगन होगा कि भारत के प्रधानमंत्री पहली बार उसके आंगन में आ रहे हैं। इसी आधुनिक रेल डिब्बा कारखाना की जुलाई 2007 में आधार शिला रखी गई थी। इसके बाद 149 महीने बीत चुके हैं। इस दौरान रेलमंत्री समेत कई वीवीआपी यहां आए। मगर, पीएम मोदी के आने का यह पहला मौका होगा। इसी वर्ष 18 मार्च को रेलमंत्री पीयूष गोयल, सात सितंबर को कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी यहां का कामकाज देखने आ चुकी हैं।

प्रधानमंत्री मोदी का प्रयागराज और रायबरेली का आज एक दिवसीय दौरा - प्रधानमंत्री का यहां आना महत्वपूर्ण है। इससे यह संदेश जाएगा कि भारत उसके कारखानों में तैयार डिब्बों के निर्यात के लिए प्रतिस्पर्धी बाजार में उतर रहा है। उनका यह दौरा इस लिहाज से काफी अहम है कि भारत की उच्च गुणवत्ता के रेल डिब्बों के विनिर्माण और निर्यात बाजार पर नजर है। रेलवे ने कुछ महीने पहले ही प्रस्ताव दिया था कि वह ऐसे देशों के लिए बुलेट ट्रेन के डिब्बे बनाने और निर्यात करने को इच्छुक है, जो तेज रफ्तार गलियारे का निर्माण कर रहे हैं। कारखाने को लेकर पहले ही कई देश अपनी रूचि दिखा चुके हैं। कोरिया, जापान, जर्मनी, चीन और ताइवान के अधिकारी कारखाने का दौरा कर चुके हैं। रेलवे के एक अधिकारी ने कहा कि कई देश कम उत्पादन लागत की वजह से भारत का इस्तेमाल विनिर्माण के प्रमुख केंद्र के रूप में कर सकते हैं। माडर्न कोच फैक्टरी (एमसीएफ)में पहली बार पूरे डिब्बे का विनिर्माण रोबोट ने किया है। एक किलोमीटर लंबी उत्पादन लाइन में रोबोट को समानांतर तौर पर काम में लगाया गया है, जहां वे डिब्बों पर कुछ-कुछ काम कर रहे हैं। वर्तमान में 70 रोबोट काम में लगे हुए हैं। यह पूरी तरह से 'मेक इन इंडिया' है।

प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राजमार्ग 232 के पुनर्निर्मित 133 किलोमीटर लंबे रायबरेली मार्ग को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। यह मार्ग बुंदेलखंड, चित्रकूट, लखनऊ और उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल क्षेत्र के बीच एक महत्वपूर्ण संपर्क मार्ग है।

जयपुर से प्रकाशित एवं प्रसारित न्यूज़ पेपर

दैनिक चमकता राजस्थान

सम्बन्धित खबरें पढने के लिए यहाँ देखे
See More Related News
post business listing – INDIA
Follow us: Facebook
Follow us: Twitter
Google Plus
Share on Google Plus

About Team CR

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment