चुनाव आयोग ने आंध्र प्रदेश से आचार संहिता हटाई

चुनाव आयोग ने आंध्र प्रदेश से आचार संहिता हटाई
चुनाव आयोग ने आंध्र प्रदेश से आचार संहिता हटाई
सबसे खतरनाक तूफान माना जा रहा फैनी शुक्रवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे ओडिशा के पुरी तट से टकराया, हजारों पेड़ और बिजली के खंभे गिर गए।

निचली बस्तियों में पानी भर गया, जिस वक्त तूफान पुरी तट से टकराया, हवा की रफ्तार 175 किमी/घंटे थी। कुछ स्थानों पर यह 200 किमी/घंटे तक पहुंची, इस बीच तीन लोगों की मौत हो गई है।

एक बुजुर्ग की मृत्यु हार्टअटैक से हुई, जबकि दो व्यक्ति चेतावनी के बावजूद तूफान में गए, पेड़ गिरने से उनकी मौत हो गई,’’ फैनी अब बंगाल की ओर बढ़ रहा है, कोलकाता में बारिश शुरू हो गई है।

फैनी तूफान की वजह से चुनाव आयोग ने आंध्रप्रदेश के चार जिलों- पूर्व गोदावरी, विशाखापट्टनम, विजयनगरम और श्रीकाकुलम से आचार संहिता हटा ली।

यह फैसला राहत कार्यों में आने वाली संभावित अड़चनों की वजह से किया गया।

मौसम विभाग के मुताबिक, फैनी बंगाल से होता हुआ बांग्लादेश की तरफ बढ़ेगा ऐसे में पश्चिम बंगाल के तटवर्ती इलाकों में भी चेतावनी जारी कर दी गई है।

इससे पहले ओडिशा में एहतियात के तौर पर 15 जिलों से 11 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया। यह 20 साल में ओडिशा से टकराने वाला सबसे खतरनाक तूफान है।

दिल्ली मौसम विभाग के मृत्युंजय महापात्र ने कहा- फैनी आंध्रप्रदेश से आगे बढ़ा, इससे राज्य के तीन जिलों में भारी बारिश हुई।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 48 घंटे के लिए अपनी सभी रैलियां रद्द कीं।

कोलकाता में भी फैनी का असर दिखाई देने लगा है, यहां बारिश शुरू हो गई है।

फैनी का मुख्य केंद्र ओडिशा से आगे निकल रहा है।

ओडिशा में तूफान की वजह से बारिश का सिलसिला दोपहर तक जारी रहने का अनुमान है।

एनडीआरएफ ने प्रभावित क्षेत्रों में राहत-बचाव का काम शुरू किया।

32 वर्षीय महिला ने रेलवे हॉस्पिटल में नवजात को जन्म दिया, सुबह साढ़े 11 बजे हुई इस बच्ची का नाम फैनी रखा गया है।

महिला रेलवे कर्मचारी है, कोच रिपेयर वर्कशॉप में बतौर हेल्पर काम करती है, मां और बेटी दोनों स्वस्थ हैं।

तटरक्षक बल ने कहा है कि चक्रवाती तूफान फोनी को देखते हुए 34 राहत दलों और चार तटरक्षक पोतों को राहत कार्य के लिए तैनात किया गया है।

नौसेना के प्रवक्ता कैप्टन डीके शर्मा ने दिल्ली में कहा कि नौसेना के पोत सहयाद्री, रणवीर और कदमत को राहत सामग्री और चिकित्सा दलों के साथ तैनात किया गया है।

ओडिशा के तटीय जिलों में फैनी के दौरान रेल, सड़क और हवाई यातायात पूरी तरह से बंद कर दिया गया। गुरुवार मध्यरात्रि से बीजू पटनायक इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर सभी उड़ानें 24 घंटे के लिए रोक दी गई हैं। कोलकाता एयरपोर्ट भी शुक्रवार रात से शनिवार शाम तक बंद रहेगा।

फैनी तूफान बीते 20 सालों में अब तक का सबसे खतरनाक चक्रवात साबित हो सकता है। ओडिशा में 1999 में आए सुपर साइक्लोन से करीब 10 हजार लोग मारे गए थे।

भारतीय मौसम विभाग सूत्रों के मुताबिक पिछले 43 सालों में यह पहली बार है जब अप्रैल में भारत के आसपास मौजूद समुद्री क्षेत्र में ऐसा कोई चक्रवाती तूफान उठा है।

क्षेत्रीय मौसम विभाग के पूर्व निदेशक शरत साहू के मुताबिक- ओडिशा में 1893, 1914, 1917, 1982 और 1989 की गर्मियों में भी तूफान आए थे।

लेकिन इस बार का चक्रवात बंगाल की खाड़ी के गर्म होने से बना है। लिहाजा यह ज्यादा खतरनाक हो सकता है।

दैनिक चमकता राजस्थान
Dainik Chamakta Rajasthan e-paper and Daily Newspaper, Publishing from Jaipur Rajasthan










सम्बन्धित खबरें पढने के लिए यहाँ देखे
Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment