पीएम मोदी ने कांग्रेस और एनसीपी पर जमकर हमला बोला

नई दिल्ली ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के प्रचार में जोर-शोर से जुटे हैं। महाराष्ट्र के परली में पीएम नरेंद्र मोदी रैली करते हुए सोमनाथ से लेकर वैद्यनाथ तक की बात की।

साथ ही 370 हटाने का जिक्र करते हुए कांग्रेस और एनसीपी पर जमकर हमला बोला। पीएम मोदी ने साथ ही पीएम मोदी ने बीजेपी के स्थानीय स्वर्गीय नेता गोपीनाथ मुंडे को भी याद किया। पीएम मोदी ने कहा कि आज एक साथ मुझे दो-दो भगवानों का दर्शन करने का सौभाग्य मिला है। यहां पहुंचते ही पहले बाबा वैद्यनाथ के चरणों में चला गया, उसके बाद इस विशाल जनता जनार्दन का दर्शन करने का मौका मिला, जनता भी भगवान का रूप होती है। बाबा भोलेनाथ का आशीर्वाद हम सभी पर बना हुआ है। सोमनाथ से लेकर वैद्यनाथ तक, काशी विश्वनाथ से लेकर केदारनाथ तक, सम्पूर्ण विश्व पर महादेव की कृपा बनी हुई है।  मोदी ने कहा कि विरोधी दल के नेताओं को को चिंता हो रही है कि भाजपा के कार्यकर्ता इतनी मेहनत क्यों कर रहे हैं? मैं आज बीड से उनको बता दूं कि, भाजपा के पास लगन से कार्य करनेवाले कार्यकर्ता हैं, तभी वो दिलों को जीतते हैं और दलों को जिताते हैं। कांग्रेस के अधिकतर नेता आज आपस में एक दूसरे से निपटने में लगे हैं। इनकी युती में जो युवा नेता थे वो भी साथ छोड़ रहे हैं और वरिष्ठ नेता आज हताश-निराश हैं। आज अगर महायुति के पक्ष में माहौल है तो इसके पीछे बीते पांच वर्ष की हमारी कार्यशक्ति है। वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस-एनसीपी के नेताओं की स्वार्थशक्ति है। अनुच्छेद 370 का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि इसे हटाने के फैसले पर एक ने कहा था कि ये किसी की हत्या करने जैसा है। एक नेता ने कहा कि ये भारत की राजनीति का काला दिन है। एक नेता ने कहा कि ये लोकतंत्र के खिलाफ है, एक और बड़े नेता ने कहा कि भारत में लोकतंत्र की खत्म हो गया। एक और नेता ने कहा कि इस फैसले से राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा पैदा हो गया है। ये हमारे विरोधियों की भाषा है।
मोदी ने कहा कि 370 का विरोध हमारी पार्टी का जन्म हुआ उस दिन से करते आ रहे हैं। हम राजनीति के लिए नहीं करते, हम देशनीति के लिए करते हैं। मोदी ने कहा कि देश की एकता-अखंडता में कांग्रेस को हिन्दू मुसलमान नजर आता है। कांग्रेस कहती है कि कश्मीर का मुद्दा भारत का अंदरूनी मामला नहीं है। कांग्रेस के एक और नेता ने कहा कि ये देश को बर्बाद करने वाला फैसला है। क्या ऐसे बयान देने वालों को आप माफ करेंगे? इतिहास में जब भी 370 की चर्चा होगी तो देशहित में किए निर्णय को विरोध करने वालों का, उनके बयानों का जिक्र जरूर होगा।
Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a comment