7 संकल्पों के साथ राजस्थान भरेगा विकास की उड़ान

शनिवार को 'नो बैग डेÓ की घोषणा, पढ़ाई नहीं होगी, इस दिन होंगी साहित्यिक-खेलकूद गतिविधि और बालसभाएं


जयपुर । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राज्य का बजट किया हैं। मुख्यमंत्री ने बजट में सात संकल्पों का उल्लेख किया है। गहलोत बोले हमारे लिए संपूर्ण राजस्थान एक परिवार के लिए है। इसके लिए सात संकल्प इस बजट की प्राथमिक्ता है। इसके साथ उन्होंने बजट में युवाओं के लिए 53 हजार 151 पदों पर भर्ती का एलान किया। वहीं स्कूलों में शनिवार के दिन 'नो बैग डे' की घोषणा भी की। इस दिन कोई अध्यापन कार्य नहीं होगा। शनिवार को स्कूलों में साहित्यिक गतिविधि, पेरेंट्स टीचर मीटिंग, बालसभाएं होंगी।
मुख्यमंत्री गहलोत ने इन सात संकल्प के साथ की बजट की शुरुआत
पहला संकल्प- निरोगी राजस्थान,
दूसरा संकल्प - संपन्न किसान,
तीसरा संकल्प- महिला, बाल और वृद्ध कल्याण,
चौथा संकल्प - सक्षम मजदूर, छात्र, युवा, जवान,
पांचवां संकल्प - शिक्षा का परिधान,
छठा संकल्प - पानी, बिजली और हितों का मान
सातवां संकल्प - कौशल एवं तकनीकी प्रधान।
किसानों के लिए 3420 करोड़ की योजना
जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को साल 2020-21 के लिए राज्य का बजट प्रदेश विधानसभा में पेश किया। इस दौरान उन्होंने किसानों के लिए 3420 करोड़ की योजना का ऐलान किया। साथ ही उन्होंने कहा कि राजस्थान के किसानों के लिए कृषि यंत्र की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए प्रदेश भर में 300 कृषि यंत्र हायरिंग सेंटर भी स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने सदन में बताया कि किसानों के खेत के पास कृषि उपज विपणन की सुविधा विकसित की जाएगी। किसानी के क्षेत्र में सोलर एनर्जी की संभावनाओं का जिक्र करते हुए गहलोत ने कहा कि प्रदेश में 25 हजार नए सोलर पंप लगाए जाएंगे। इसके अलावा दो लाख टन यूरिया और डीएपी के अग्रिम भंडारण की भी व्यवस्था की जाएगी। बजट पेश करने के दौरान गहलोत ने कहा कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति बहुत हद तक केंद्रीय नीतियों पर निर्भर है। उन्होंने जैसलमेर, बीकानेर, बाड़मेर, जोधपुर, नागौर, बाड़मेर, गंगानगर, पाली, जालौर, सिरोही के अतिरिक्त क्षेत्र को सिंचित बनाया जाने की भी घोषणा की है। 2 लाख टन यूरिया और डीएपी के अग्रिम भंडारण की व्यवस्था का भी ऐलान किया है। वहीं किसानों के खेत के पास कृषि उपज विपणन की सुविधा विकसित करने पर काम करने का ऐलान किया है।

कर्मचारियों के लिए खुशखबरी
राजस्थान के सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को बजट पेश करते हुए राज्य कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है। सीएम गहलोत ने अब तक बकाया महंगाई भत्ता जारी करने का ऐलान किया है। उन्होंने बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता लागू करने की घोषणा की है। जुलाई 2019 से महंगाई भत्ते को 12 प्रतिशत से बढ़ाकर 17 प्रतिशत किया है।
शिक्षा
उच्च शिक्षा को लेकर बजट में की गई घोषणा, राजीव गांधी ई कंटेंट लाइब्रेरी होगी शुरू
41 करोड़ 60 लाख की लागत से अल्पसंख्यक बच्चों के लिए छात्रावास बनवाया जाएगा।
66 कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों की घोषणा, 3 साल में बनेंगे 66 नए कस्तूरबा आवासीय विद्यालय।
प्राइवेट स्कूलों की तर्ज पर अब सरकारी स्कूलों में भी होगी पेरेंट्स मीटिंग। 39 हजार 524 करोड़ रुपए का प्रावधान शिक्षा के लिए किया, शेष रहे ब्लॉक में महात्मा गांधी इंग्लिश मॉडल स्कूल की स्थापना की जाएगी

उद्योग
उद्योगों के लिए सभी अनुमति या एक ही जगह से देने के लिए 2011 में सिंगल विंडो एक्ट शुरू किया था, अब वन स्टॉप शॉप प्रणाली लागू करने का फैसला किया है। इसके लिए मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में एक निवेश बोर्ड का गठन किया जाएगा।
राज्य में एमएसएमई की आसानी से स्थापना करने के लिए साल 2019 में हम नया एक्टर लेकर आए, एमएसएमई के नए सिस्टम में 3339 उद्यमियों ने करवाया है रजिस्ट्रेशन, अंतर्राष्ट्रीय निर्यात एक्सपो आयोजित किया जाएगा। सीतापुरा में 25000 वर्ग फीट में फैसिलिटी निर्मित किया जाना प्रस्तावित है। रीको की तरफ से आयोजित इस एक्सपो में तीन करोड़ रुपए का खर्चा हुआ है। 
Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment