बंद दरवाजों के बीच ओलंपिक मशाल यूनान ने टोक्यो को सौंपी ओलंपिक मशाल टोक्यो में 24 जुलाई से 9 अगस्त आयोजित होने हैं ओलंपिक .......


Olympic torch amid closed doors Greece handed over Olympic torch to Tokyo Olympics to be held in Tokyo from July 24 to August 9





यूनान ने कोरोना वायरस महामारी के कारण ओलंपिक को स्थगित करने की अपीलों के बीच गुरुवार को यहां बंद दरवाजों के अंदर आयोजित किए गए समारोह में टोक्यो 2020 के आयोजकों को ओलंपिक मशाल सौंपी। जिम्नास्ट चैंपियन पेट्रोनियास ने मशाल लेकर लगाई दौड़ दर्शकों की गैरमौजूदगी में ओलंपिक जिम्नास्ट चैंपियन लेफ्टेरिस पेट्रोनियास ने मशाल लेकर दौड़ लगाई जबकि ओलंपिक पोल वॉल्ट चैंपियन कैटरीना स्टेफनिडी ने पैनथैनेसिक स्टेडियम के अंदर ओलंपिक ‘अग्निकुंड’ को प्रज्वलित किया। इसी स्टेडियम में 1896 में पहले आधुनिक ओलंपिक खेल हुए थे। इसके बाद यह मशाल तोक्यो 2020 के प्रतिनिधि नाओको इमोतो को सौंप दी गई। इमोतो तैराक हैं और उन्होंने 1996 अटलांटा ओलंपिक खेलों में हिस्सा लिया था। यूनिसेफ की प्रतिनिधि इमोतो को आखिरी क्षणों में नियुक्त किया गया क्योंकि वह यूनान में रहती हैं ओर उन्हें जापान से यात्रा करने की जरूरत नहीं पड़ी। पिछले सप्ताह प्राचीन ओलंपिया में मशाल प्रज्वलित करने का समारोह भी दर्शकों के बिना आयोजित किया गया था। 

ओलंपिक पर अभी फैसला लेना जल्दबाजी होगी

बीजिंग इंडियन ओलंपिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष थॉमस बाख ने कहा है कि कोरोनावायरस के कारण टोक्यो ओलंपिक-2020 के भविष्य के बारे में अभी फैसला लेना जल्दबाजी होगा। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पूर्व ओलंपिक चैम्पियन यांग यांग  ने लिखा है कि बाख ने यह बात बुधवार को खिलाडिय़ों के प्रतिनिधियों के साथ हुई टेलीकॉन्फ्रेंस में कही। दो घंटे तक चली इस टेलीकॉन्फ्रेंस में अंतरराष्ट्रीय महासंघ, खिलाडिय़ों, ओलंपिक आयोजन समिति से संबंध रखने वाले एथलीट कमीशन और आईओसी के सदस्यों ने हिस्सा लिया था। यांग यहां एथलीट कमिशन के अध्यक्ष के तौर पर शामिल हुए थे। यांग के मुताबिक, बाख ने माना कि ओलम्पिक को स्थगित करने और रद्द करने की अफवाहों का खिलाडिय़ों की तैयारी पर असर पड़ा है। अध्यक्ष ने कहा कि आईओसी खेलों को वित्तीय नुकसान के डर से आयोजित करने की जिद पर नहीं अड़ेगी क्योंकि इसकी भरपाई जोखिम प्रबंधन और बीमा से की जा सकती है। अभी आईओसी संबंधित संगठनों जिसमें विश्व स्वास्थ संगठन शामिल है, से संपर्क में हैं। बाख ने खिलाडिय़ों से कहा कि टोक्यो-2020 की आयोजन समिति खेलों को तय कार्यक्रमों के मुताबिक आयोजित करने को लेकर प्रतिबद्ध है।


तारीखों में बदलाव संभव : सेबास्टियन कोए


Image result for तारीखों में बदलाव संभव : सेबास्टियन कोएलंदन। विश्व एथलेटिक्स के अध्यक्ष सेबास्टियन कोए ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी तो टोक्यो ओलंपिक-2020 की तारीखों में बदलाव किया जा सकता है, लेकिन इस समय फैली भयंकर बीमारी कोरोनावायरस के कारण यह सवाल उठ रहा है कि क्या आयोजक तय तारीखों के साथ ही जाएंगे या नहीं। कोए ने एक रिपोर्ट के हवाले से लिखा, चार महीने बचे हैं, इसलिए जब जरूरत नहीं तब शीघ्र फैसला नहीं करना चाहिए। अगर आपको तारीखों में बदलाव करना पड़ा तो करना पड़ेगा। यह संभव है। कुछ भी संभव है। कोए ने हालांकि कहा कि ओलम्पिक की तारीखों में बदलाव काफी मुश्किल है क्योंकि इसका अन्य खेल टूर्नामेंट्स पर असर पड़ेगा। 



आईपीएल पर फैसला 15 अप्रेल के बाद : रिजिजू


Image result for आईपीएल पर फैसला 15 अप्रेल के बाद : रिजिजूनई दिल्ली। खेल मंत्रालय ने गुरुवार को साफ  कर दिया कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन के भविष्य पर फैसला 15 अप्रेल के बाद लिया जाएगा। मंत्रालय ने बताया कि कोरोनावायरस के कारण फैली मौजूदा स्थिति को देखने के बाद ही 15 अप्रेल के बाद नई एडवाइजरी जारी की जाएगी। खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि क्रिकेट के मसलों पर फैसला बीसीसीआई को लेना होता है। इस बीमारी का असर सीधे तौर पर देश के नागिरकों पर पड़ेगा। उन्होंने कहा, 15 अप्रेल के बाद सरकार स्थिति के हिसाब से नई एडवाइजरी जारी करेगी। बीसीसीआई क्रिकेट को मसलों को देखती है और यह ओलंपिक स्पोर्ट नहीं है, लेकिन यह सिर्फ एक खेल टूर्नामेंट का सवाल नहीं बल्कि नागरिकों की सुरक्षा का सवाल है। एक टूर्नामेंट में हजारों लोग आते हैं। इसलिए यह सिर्फ खेल संघ और खिलाडिय़ों की बात नहीं यह हर नागरिक की बात है। आईपीएल की शुरुआत 29 मार्च से होनी थी। 



जेडीसीए के चुनाव पर हाईकोर्ट की रोक

Image result for जेडीसीए के चुनाव पर हाईकोर्ट की रोक
जयपुर (संवाद)।  हाईकोर्ट ने जेडीसीए (जयपुर जिला क्रिकेट एसोसिएशन) की कार्यकारिणी के 22 मार्च को होने वाले चुनाव पर रोक लगा दी है। साथ ही मामले में प्रमुख खेल सचिव, रजिस्ट्रार संस्थान सहित अन्य पक्षकारों से 27 अप्रेल तक जवाब मांगा है। जस्टिस एसपी शर्मा ने यह अंतरिम निर्देश गुरुवार को डॉ. बीआर सोनी की याचिका पर सुनवाई करते हुए दिया। यह है मामला याचिका में कहा कि एक क्रिकेट क्लब ने पिछले दिनों रजिस्ट्रार संस्थाएं के यहां पर जेडीसीए में अनियमितताओंं को लेकर शिकायत की थी। जिस पर कार्रवाई करते हुए रजिस्ट्रार संस्थाएं ने पिछले महीने जेडीसीए की कार्यकारिणी को भंग कर तदर्थ कमेटी का गठन कर दिया था। इसकी अपील खेल सचिव के यहां पर लंबित थी। जिस पर हाईकोर्ट ने 28 फरवरी को जेडीसीए के 15 मार्च को प्रस्तावित चुनाव पर रोक लगाते हुए ,खेल सचिव को उनके यहां पर लंबित अपील पर 5 व 6 मार्च को सुनवाई पूरी करने के लिए कहा था। लेकिन खेल सचिव ने 12 मार्च को अपील पर सुनवाई पूरी कर तदर्थ कमेटी के गठन को सही माना। साथ ही खेल सचिव ने यह आदेश 12 मार्च को देने के बाद भी उस पर 6 मार्च की तारीख दर्शाई। अदालत ने मामले में सुनवाई कर आगामी जेडीसीए के चुनाव पर रोक लगाते हुए राज्य सरकार सहित अन्य पक्षकारों को जवाब देने के लिए कहा। आरसीए के नए एथिक्स ऑफिसर के आदेश पर रोक वहीं हाईकोर्ट ने एक अन्य मामले में आरसीए के नए एथिक्स ऑफिसर के 17 मार्च 2020 के उस आदेश की क्रियांविति पर रोक लगा दी है जिसमें पुराने एथिक्स ऑफिसर के आदेश को संशोधित कर मोहम्मद इकबाल व मोहम्मद असलम को जेडीसीए के 22 मार्च को होने वाले चुनावों में शामिल होने की छूट दी थी। अदालत ने यह अंतरिम निर्देश हशमत आलम की याचिका पर दिया। याचिका में कहा कि पुराने एथिक्स ऑफिसर जस्टिस पानाचंद जैन ने 27 सितंबर 2018 के आदेश से मोहम्मद इकबाल व असलम को क्रिकेट गतिविधियों में शामिल होने को लेकर छह साल की पाबंदी लगाई थी। याचिका में कहा कि एथिक्स ऑफिसर को खुद के आदेश को रिव्यू करने का अधिकार नहीं है। इसलिए नए एथिक्स ऑफिसर के आदेश पर रोक लगाई जाए।





Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment