लॉकडाउन से अर्थव्यवस्था को नौ लाख करोड़ का नुकसान

Image result for लॉकडाउन से अर्थव्यवस्था को नौ लाख करोड़ का नुकसान


नई दिल्ली। आर्थिक जगत के विश्लेषकों के मुताबिक कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से देश की अर्थव्यवस्था को तकरीबन 120 अरब डॉलर (तकरीबन नौ लाख करोड़ रुपए) का नुकसान उठाना पड़ेगा। नौ लाख करोड़ रुपए भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के चार फीसदी के बराबर है। उन्होंने राहत पैकेज की जरूरत पर जोर देते हुए बुधवार को आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान में भी कटौती की। उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक
तीन अप्रेल को अगली द्वैमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के निष्कर्षों की घोषणा करने वाला है।

बार्कलेज ने घटाया वृद्धि दर का अनुमान

शोध-सलाह कंपनी बार्कलेज ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए वृद्धि दर के अनुमान में 1.7 फीसदी की कटौती कर इसके 3.5 फीसदी रहने का अनुमान व्यक्त किया है। बार्कलेज ने कहा कि, 'हमारा अनुमान है कि राष्ट्रव्यापी बंदी की कीमत करीब 120 अरब डॉलर यानी जीडीपी के चार फीसदी के बराबर रह सकती है।Ó


फिच ने घटाया था अनुमान

फिच रेटिंग्स ने  देश की जीडीपी विकास दर का अनुमान घटाया था। रेटिंग एजेंसी ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए जीडीपी ग्रोथ को घटाकर 5.1 फीसदी कर दिया है। इससे पहले फिच रेटिंग्स ने जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 5.6 फीसदी लगाया था।

मूडीज ने भी घटाई रेटिंग

रेटिंग एजेंसी मूडीज इंवेस्टर्स सर्विस ने भी भारत की विकास दर का अनुमान घटाया है। दरअसल, वैश्विक मंदी के खतरे से होने वाले प्रभाव को देखते हुए मूडीज ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान 5.4 से घटाकर 5.3 कर दिया है।

एसएंडपी ने जताया अनुमान

एसएंडपी ने 2020 में भारत की आर्थिक वृद्धि का अनुमान घटाकर 5.2 फीसदी कर दिया है। एसएण्डपी की तरफ  से यह भी कहा गया है कि कोरोनावायरस महामारी के चलते दुनियाभर की अर्थव्यवस्था मंदी के दौर में जा रही है।


कच्चा तेल उत्पादन फरवरी में 6.4 प्रतिशत घटा

नई दिल्ली। देश का कच्चा तेल उत्पादन फरवरी में एक साल पहले की तुलना में 6.4 प्रतिशत गिर गया। इसकी प्रमुख वजह निजी कंपनियों के परिचलन वाले तेल कुंओं का उत्पादन घटना है। हालांकि इस अवधि में ओएनजीसी के उत्पादन में बढ़ोत्तरी हुई है। पेट्रोलियम मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार फरवरी में देश का कच्चा तेल उत्पादन सालाना आधार पर 6.41 प्रतिशत घटकर 23.9 लाख टन रह गया। पिछले साल फरवरी में यह 25.6 लाख टन था। सरकारी कंपनी ओएनजीसी का तेल उत्पादन इस दौरान 4.64 प्रतिशत बढ़कर 16.7 लाख टन रहा। हालांकि निजी क्षेत्र के नियंत्रण वाले तेल कुंओं का उत्पादन 32.6 प्रतिशत गिर गया है, जबकि राजस्थान के तेल कुंओं का उत्पादन 32.3 प्रतिशत गिरा है। राजस्थान के तेल क्षेत्र का नियंत्रण वेदांता लिमिटेड के पास है। ऑयल इंडिया लिमिटेड का कच्चा तेल उत्पादन फरवरी में 13.13 प्रतिशत गिरकर 2,46,260 टन रहा। इस दौरान प्राकृतिक गैस का घरेलू उत्पादन भी करीब नौ प्रतिशत घटा है। फरवरी में यह 2.2 अरब घन मीटर रहा।

होम क्रेडिट का कोविड-19 हॉस्पिटलाइजेशन इंश्योरेंस

नई दिल्ली। होम क्रेडिट इंडिया ने अपने सभी कर्मचारियों के लिए विशेष कोविड-19 हॉस्पिटलाइजेशन इंश्योरेंस कवर का एलान किया है। कोई भी कर्मचारी जो कोविड-19 पॉजिटिव पाया जाएगा है और उसके अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत होगी, उसे इस इंश्योरेंस का लाभ मिलेगा। यह इंश्योरेंस कवर 5 लाख रुपए प्रति कर्मचारी है और मार्च 2021 तक के लिए वैध है। होम क्रेडिट इंडिया के चीफ ह्यूमन रिसोर्सेज ऑफिसर संदीप मलिक ने कहा कि किसी भी तरह के खतरे को कम करने की दिशा में बचाव के उच्चस्तरीय मानक सुनिश्चित करते हुए एक जिम्मेदार कर्जदाता एवं ऑर्गनाइजेशन होने पर होम क्रेडिट को गर्व है। भारत में कोविड-19 के मरीजों की तेजी से बढ़ती संख्या को देखते हुए यह हमारी सामाजिक जिम्मेदारी है कि हम साथ आएं और मानवता के प्रति सेवाओं को विस्तार दें। हमारी कोविड-19 प्रोटेक्शन पॉलिसी कोरोना संक्रमितों को वित्तीय सहायता प्रदान करेगी और इस जनस्वास्थ्य आपदा के समय एकजुटता प्रदर्शित करेगी। होम क्रेडिट इंडिया ने विभिन्न आसान लोन विकल्पों की मदद से 1.07 करोड़ ग्राहकों को लाभ पहुंचाया है। 10,000 रुपए से कम के लोन की कैटेगरी में अगुआ के तौर पर होम क्रेडिट 265 शहरों में अपने करीब 35,000 पॉइंट ऑफ सेल (पीओएस) के जरिए आसान वित्तीय विकल्प मुहैया कराती है।

पारले जी बिस्कुट के एक करोड़ पैक्स दान करेगा

मुंबई। अग्रणी बिस्कुट एवं कंफेक्शनरी निर्माता पारले बिस्कुट्स ने घोषणा की है कि वह मौजूदा लॉकडाउन के दौरान हर हफ्ते पारले जी के एक करोड़ पैकेटों को दान करेगा। राष्ट्रीय संकट के इस मुश्किल समय में पारले भारत सरकार के साथ सहयोग करने के लिए तैयार है और यह उन लोगों की कठिनाई को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा जिन्हें दैनिक आय में नुकसान हो रहा है। पारले जी बिस्किट को तीन सप्ताह की अवधि के दौरान मुफ्त में राज्य डिपो द्वारा जारी किया जाएगा और कंपनी के अधिकारी सरकार के साथ सबसे प्रभावी वितरण चैनलों पर करीब से काम कर रहे हैं। पारले बिस्किट्स के सीनियर कैटेगरी हेड मयंक शाह ने कहा कि यह गतिविधि देश की सेवा करने की पारले जी की लगातार जारी समृद्ध धरोहर को दिखाता है जिसके तहत यह खुद को युद्ध और प्राकृतिक आपदा के दौरान ऊर्जा का आवश्यक स्रोत के रूप में पेश करता है। इसने भारत का अपना बिस्किट होने का नाम कमाया है। पारले जी बिस्किट को केरल, चेन्नई और महाराष्ट्र में आई बाढ़ के दौरान व्यापक रूप से उपलब्ध कराया गया था।

ईएलएसए की निशुल्क एक्सेस की घोषणा 

नई दिल्ली। भाषा सीखने वालों को उनके अंग्रेजी के उच्चारण को बेहतर बनाने में मदद के लिए स्पीच रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग करने वाला डिजिटल एप इंग्लिश लैंग्वेज स्पीच असिस्टेंट (ईएलएसए) ने तीसरी से 12वीं कक्षा तथा कॉलेज के सभी छात्रों के लिए निशुल्क ईएलएसए प्रो  अकाउंट बनाने की सुविधा की घोषणा की। ईएलएसए प्रो 1600 से ज्यादा अंग्रेजी के पाठ और व्यापक उच्चारण प्रशिक्षण पाठ्यक्रम प्रदान करता है, जिसमें अंग्रेजी की सभी ध्वनियों को कवर किया गया है। ईएलएसए की कंट्री हेड इंडिया कॉर्प मानित पारिख ने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि मुश्किल भरे इस दौर में हम दुनिया भर के छात्रों की मदद करें, क्योंकि स्कूल लंबे समय से बंद हैं। हम आशा करते हैं कि छात्र हमारे मोबाइल एप्लिकेशन ईएलएसए स्पीक के माध्यम से अपनी अंग्रेजी की शिक्षा जारी रखने में सक्षम होंगे। दुनिया तेजी से डिजिटल हो रही है, आपस में जुड़ रही है, इंटरेनशनल टीमें और रिमोट वर्कर्स आज सामान्य बात हो गई है, ऐसे में अंग्रेजी दक्षता छात्रों को कुशल बनाने के लिए एक महत्वपूर्ण कौशल बन गया है। हमारा मोबाइल एप ईएलएसए स्पीक पूरे भारत में छात्रों को स्कूल और कॉलेज बंद होने के बाद भी अंग्रेजी बोलना सीखने में मदद करेगा। ईएलएसए प्रो को एक्सेस करने के लिए तीन महीने के लिए निशुल्क सदस्यता ले सकते है, पंजीकरण 15 अप्रेल 2020 को बंद हो जाएगा।


कैबिनेट ने बैंकों के विलय को दी मंजूरी
मुम्बई। विदेशी बाजारों से मिले मजबूत संकेतों से भारतीय शेयर बाजार में बुधवार को जोरदार रिकवरी आई और सेंसेक्स 1862 अंकों की तेजी के साथ 28,536 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 517 अंकों की तेजी के साथ 8318 पर बंद हुआ। एनएसई का प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी भी 516.80 अंकों यानी 6.62 फीसदी की तेजी के साथ 8317.85 पर बंद हुआ। शेयर बाजार में इस जोरदार तेजी से बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण पिछले दो दिनों में 6,63,240.78 करोड़ रुपए बढ़कर 1,08,50,177.06 करोड़ रुपए पहुंच गया। बीएसई में 1213 कंपनियों में तेजी रही, जबकि 989 में गिरावट दर्ज की गई, वहीं 254 कंपनियों के शेयरों के भाव में
कोई बदलाव नहीं हुआ।


रिलायंस फिर बनी सर्वाधिक बाजार पूंजी वाली कंपनी

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर बुधवार को करीब 15 प्रतिशत चढ़ गया। इसके बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज ने टीसीएस को पीछे छोड़ फिर से सर्वाधिक बाजार पूंजीकरण वाली भारतीय कंपनी का तमगा हासिल कर लिया। रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर बीएसई में 14.65 प्रतिशत मजबूत होकर 1081.25 रुपए पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान एक समय यह 22.25 प्रतिशत चढ़कर 1152 रुपए पर पहुंच गया था। एनएसई में भी इसका शेयर 13.84 प्रतिशत चढ़कर 1074 रुपए पर बंद हुआ।


कपड़ा, मेड अप निर्यात के लिए शुल्क प्रोत्साहन योजना की अवधि बढ़ाई


नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को निर्यात के लिए परिधान और चादर, कालीन जैसे मेड अप उत्पादों की खेप पर केंद्रीय और राज्य स्तरीय करों और शुल्कों का बोझ खत्म करने की योजना की अवधि बढ़ा दी है। परिधान और मेड अप की निर्यात खेप पर राज्य एवं केंद्र स्तरीय कर व शुल्कों की वापसी की यह योजना अब पहली अप्रेल से तब तक जारी रहेगी जब तक कि इसे निर्यात वस्तुओं पर कर और शुल्क वापसी की नई योजना में समाहित न कर दिया जाए। सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंत्रिमंडल के निर्णय के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि कपड़ा और मेड अप के निर्यात पर राज्य एवं केंद्रीय करो तथा शुल्कों से छूट की योजना की अवधि एक अप्रेल से आगे बढ़ाने को मंजूरी दे दी गई है। यह योजना तब तक के लिए बढ़ाई गई, जब तक आरओडीटीईपी अमल में नहीं आती। आरओडीटीईपी निर्यातकों के लिए योजना है, जिसके तहत निर्यातक निर्यात वाले वस्तुओं पर जो भी कर देते है, उसे वापस ले सकते हैं। उन्हें यह छूट उन करों पर मिलेगी, जो मौजूदा योजनाओं या प्रणाली के तहत रिफंड या छूट के दायरे में नहीं आते।
Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a comment