गोविंददेवजी मंदिर में वन-वे प्रवेश-निकास....

Image result for गोविंददेवजी मंदिर में वन-वे  प्रवेश-निकास



 शहर के आराध्य गोविंददेवजी मंदिर में भक्तों के लिए वन-वे (एकतरफा) प्रवेश और निकास की व्यवस्था शुरू कर दी गई है। मंदिर प्रवक्ता मानस गोस्वामी ने बताया कि संक्रमण को देखते हुए मंदिर को सैनिटाइज कर दिया गया है। तीनों प्रवेश द्वारों पर हैंड सैनिटाइजर रखवा दिया गया है। भक्तों को मंदिर में नहीं रुकने की अपील की जा रही है। इसके लिए मंदिर में जगह-जगह गार्ड तैनात कर दिए गए हैं। इन उत्सव-मेलों पर पड़ेगा असर पर्यटन विभाग ने 21 मार्च को सीकर में होने वाला शेखावाटी पर्यटक उत्सव, 27 मार्च को शाहपुरा में होने वाला गणगौर उत्सव रद्द कर दिया है। वहीं 27 और 28 मार्च को गणगौर की सवारी के दौरान विभाग की ओर से होने वाले लोकनृत्यों को निरस्त कर दिया। 27 से 29 मार्च तक उदयपुर में होने वाले मेवाड़ उत्सव 27 मार्च से 2 अप्रेल तक नागौर में होने वाले बलदेव पशु मेला को निरस्त किया गया है। वहीं, चित्तौडगढ़़ में 19 मार्च को होने वाले जौहर मेला में भी पर्यटन विभाग भागीदारी नहीं निभाएगा।  राजस्थान दिवस के कार्यक्रम भी रद्द दो दिन पहले पर्यटन विभाग की ओर से राजस्थान फेस्टिवल के तहत 28 से 30 मार्च तक होने वाले कार्यक्रम भी रद्द कर दिए थे। राजस्थान फेस्टिवल 2020 के तहत 28 मार्च से 30 मार्च तक कई कार्यक्रम प्रस्तावित थे। फेस्टिवल के तहत होने वाले कव्वाली, फूड फेस्टिवल, कॉमेडी और एकेडमी फेस्टिवल सहित अन्य आयोजनों को रद्द कर दिया। श्रीनाथजी मंदिर में सेवा तक ही दर्शननाथद्वारा मंदिर मंडल ने 31 मार्च तक के लिए श्रीनाथजी मंदिर पर ऐहतियात के तौर पर सेवा कार्य तक पचास से कम दर्शनार्थियों के लिए ही दर्शन की व्यवस्था लागू की है। इस दौरान महज आरती के दौरान पांच मिनट के लिए ही दर्शन खुला करेंगे और वहां मौजूद लोग ही दर्शनों का लाभ ले पाएंगे। सरकार के 50 लोगों से अधिक के एकत्रित होने पर पाबंदी की वजह से मां जीण भवानी का लक्खी मेला इस साल नहीं भरेगा। 25 मार्च से दो अप्रेल तक प्रस्तावित मेले में आठ से दस लाख भक्त आते हैं।
अंबाजी के तीन गेट बंद, ब्रह्मा मंदिर पर फैसला जल्द देश के 51 शक्तिपीठों में शामिल अंबाजी में मंदिर प्रशासन की ओर से एहतियातन चार में से तीन गेट को बंद कर दिया गया है। अब मंदिर में केवल मुख्य द्वार से ही प्रवेश किया जा सकता है। मंदिर परिसर में भी सोडियम हाइड्रोक्लोराइड के स्प्रे का छिड़काव कर सफाई करवाई जा रही है।  पुष्कर के विश्वविख्यात ब्रह्मा मंदिर में भी आवाजाही बंद करने के लिए जिला कलेक्टर को पत्र लिखा गया है।

Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a comment