राज्य के स्कूल-कॉलेज छुट्टी रखें... लेकिन समय पर हो परीक्षाएं







जयपुर (संवाद)। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए किए जा रहे इंतजामों को लेकर शुक्रवार को राज्यपाल कलराज मिश्र ने राजभवन में उच्चस्तरीय बैठक ली। बैठक में मुख्य सचिव डी.बी. गुप्ता के साथ चिकित्सा महकमे में अधिकारी मौजूद थे। बैठक में राज्यपाल ने कहा कि कोरोना वायरस को फैलाव से रोकने के लिए लोगों को जागरूक करना जरूरी है। इससे वायरस से घबराने की नहीं, बल्कि सावधानी बरतने की जरूरत है। राज्यपाल ने कहा कि हाथ न मिलाएं। नमस्ते करें। जुकाम, खांसी की स्थिति में तत्काल राजकीय चिकित्सालय को सूचित करें।
राज्यपाल मिश्र ने कहा कि जिस तरीके से राज्य सरकार और मेडिकल टीम की ओर से कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए प्रभावी व्यवस्था की जा रही है, उसी प्रकार इस कार्य की नियमित रूप से मॉनिटिरिंग की जाने की जरूरत है। उन्होंने विश्वास जताया कि यदि सावधानी बरती गई तो निश्चित रूप से राजस्थान कोरोना वायरस को मात दे देगा। राज्यपाल ने निरोग राजस्थान के संकल्प के साथ राज्य सरकार की ओर से कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए किए जा रहे प्रयासों को प्रभावी रूप से जारी रखने के लिए कहा।
विश्वविद्यालयों में चलाएं जागरूकता कार्यक्रम 
राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि विश्वविद्यालयों में भी कोरोना वायरस से बचाव के उपायों के कार्यक्रम चलाए जाएं। आसपास के क्षेत्र के लोगों में जागरूकता लाने के लिए विश्वविद्यालयों की ओर से प्रयास किए जाएं। राज्यपाल ने एयरपोर्ट और हर जिले में लोगों की स्क्रीनिंग की व्यवस्था के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए शिक्षा संस्थानों में अवकाश रखने के साथ परीक्षाओं का संचालन सुचारू रूप से किया जाए।
राज्य में तीन में पुष्टि
राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि प्रत्येक जिले में आइसोलेशन वार्ड की पर्याप्त व्यवस्था को सुनिश्चित किया जाए। सार्वजनिक स्थानों पर संक्रमण न फैले, इसके लिए सेनेटाइजेशन कराया जाए। वहीं मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने बताया कि राजस्थान में अब तक तीन व्यक्तियों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है, जिनमें दो नागरिक विदेशी हैं। बैठक में मुख्य सचिव डी.बी. गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव (मेडिकल) रोहित कुमार सिंह, मेडिकल शिक्षा सचिव वैभव गेलारिया, राज्यपाल के सचिव सुबीर कुमार, प्रधान विशेषाधिकारी गोविंद राम जायसवाल, राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. राजा बाबू पंवार और सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सुधीर भंडारी मौजूद थे।
मंदिरों में रखें सुरक्षा का ध्यान

बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव मेडिकल रोहित कुमार सिंह ने बताया कि मंदिरों के प्रबंधकों को निर्देश दिए हैं कि वे मंदिर परिसर के फर्श, रैलिंग, दरवाजे, खिड़कियों एवं बैंचेज को एक प्रतिशत सोडियम हाइपर क्लोराइड सॉल्यूशन से भी विसंक्रमित कराएं। मंदिर परिसर में आईईसी के माध्यम से लोगों को जागरूक करें।

सभी जिलों में पिलाया जा रहा आयुष काढ़ा
जयपुर। कोरोना संबंधित फ्लाइट से आए सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग कराई गई है एवं उनके संपर्क में आए व्यक्तियों की भी स्क्रीनिंग की जा रही है। प्रदेश के सभी जिलों में आयुष मंत्रालय की ओर से जारी एडवाइजरी के अनुसार रोग प्रतिरोधक काढ़ा पिलाया जा रहा है। अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह की अध्यक्षता में शुक्रवार को स्वास्थ्य भवन में आयोजित समीक्षा बैठक में बताया कि पॉजिटिव व्यक्तियों के संपर्क में आए 482 लोगों को चिह्नित कर घरों में ही चिकित्सा दलों की निगरानी में रखा जा रहा है। अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार ने बताया कि प्रदेश के अस्पतालों में 23 व्यक्ति आइसोलेशन वाड्र्स में भर्ती हैं। इनमें से 11 एसएमएस में, 5 आरयूएचएस  में, 2 कोटा में, 3 झुंझुनूं में, जोधपुर व उदयपुर में एक-एक व्यक्ति भर्ती है। राजस्थान नर्सिंग कौंसिल के रजिस्ट्रार महेश शर्मा ने बताया कि शुक्रवार को करीब 7 हजार नर्सिंग विद्यार्थियों एवं फैकल्टी मेंबर्स ने कोरोना स्क्रीनिंग कार्य के लिए घर-घर जाकर सेवाएं प्रदान की।

Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a Comment