दो दिन में गिरे 26 विकेट

शमी को चार और बुमराह को तीन विकेट
भारत को दूसरी पारी में 7 रन की बढ़त



क्राइस्टचर्च
क्राइस्टचर्च की हरियाली पिच बल्लेबाजों के लिए कब्रगाह साबित हो रही है और दो दिन के खेल में 26 विकेट गिर चुके हैं। न्यूजीलैंड ने सुबह बिना कोई विकेट खोये 63 रन से आगे खेलना शुरू किया और भारतीय तेज गेंदबाजों ने मेजबान टीम को 235 रन पर समेटकर पहली पारी में सात रन की बढ़त हासिल की। तेज गेंदबाजों मोहम्मद शमी ने चार और जसप्रीत बुमराह ने तीन विकेट लेकर भारत के लिए उम्मीदें जगाईं लेकिन बल्लेबाजों ने दूसरी पारी में फिर निराश किया।  शमी ने 23.1 ओवर में 81 रन देकर चार विकेट, बुमराह ने 22 ओवर में 62 रन पर तीन विकेट, उमेश यादव ने 18 ओवर में 46 रन पर एक विकेट और लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा ने 10 ओवर में 22 रन पर दो विकेट लिए। 
दूसरी पारी में चमके बोल्ट
भारतीय बल्लेबाजों ने न्यूजीलैंड के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट के सामने दूसरी पारी में घुटने टेक दिए और विश्व की नंबर एक टीम भारत दूसरे और अंतिम टेस्ट मैच के दूसरे दिन रविवार को दूसरी पारी में छह विकेट मात्र 90 रन पर गंवा कर गहरे संकट में फंस गई है। बोल्ट ने 12 रन पर तीन विकेट लेकर भारत को दूसरी पारी में झकझोर दिया। भारत को पहली पारी में सात रन की बढ़त मिली थी और उसके पास कुल 97 रन की बढ़त हो गई है। भारत को इस मैच में यदि कोई उम्मीद करनी है तो उसके शेष बल्लेबाजों को इस बढ़त को 150 के पार ले जाना होगा ताकि गेंदबाज तेज गेंदबाजी की मददगार इस पिच पर कोई मौका बना सकें। 
दूसरी पारी में भी फेल भारतीय बल्लेबाजड्ड
भारतीय बल्लेबाजों ने दूसरी पारी में और भी निराशाजनक प्रदर्शन किया और स्टंप्स तक अपने छह विकेट 90 रन पर गिरा दिए। बोल्ट ने नौ ओवर की घातक गेंदबाजी में 12 रन देकर तीन विकेट निकाल दिए। मयंक अग्रवाल तीन, पृथ्वी शॉ 14, कप्तान विराट कोहली 14, अङ्क्षजक्या रहाणे नौ, चेतेश्वर पुजारा 24 और नाईट वॉचमैन उमेश यादव एक रन बनाकर आउट हुए। स्टंप्स के समय हनुमा विहारी पांच और ऋषभ पंत एक रन बनाकर क्रीज पर थे। भारतीय बल्लेबाजों ने पैर जमाने में समय लिया : बोल्ट
क्राइस्टचर्च। हाग्ले ओवल मैदान पर भारत के साथ जारी दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन तीन विकेट लेकर भारतीय टीम को बैकफुट पर धकेलने वाले न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने कहा है कि भारतीय बल्लेबाजों ने यहां की विकेट पर पैर जमाने में समय लिया क्योंकि कीवी गेंदबाजों ने शुरुआत से पर्याप्त दबाव बनाए रखा था। बोल्ट ने भारतीय कप्तान विराट कोहली के खराब फार्म को लेकर पूछे गए सवाल पर कहा, वह दुनिया के श्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक हैं। इसमें कोई शक नहीं। हमने कोहली जैसे बड़े खिलाड़ी पर पर्याप्त दबाव बनाने का लक्ष्य रखा था और हम इसमें सफल रहे। कोहली ने अब तक चारों पारियों में गलतियां कीं। हम भाग्यशाली रहे कि उनका बल्ला नहीं चला। 
Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a comment