वतन लौट रहे नागरिकों पर नेपाली पुलिस ने किया लाठीचार्ज, नो मेंस लैंड पर धरना शुरू




सोमवार की देर रात भारत-नेपाल की सोनौली  सीमा पर स्थिति तनावपूर्ण हो गई। अपने वतन जाने के लिए भारत-नेपाल सीमा पर सैकड़ों की संख्या में नेपाली मूल के लोग अड़ गए। इसके बाद नेपाली प्रहरी दल (नेपाली पुलिस) ने लाठीचार्ज कर दिया। नेपाली पुलिस की सख्ती के चलते किसी भी नागरिक को नेपाल में प्रवेश नहीं मिल सका।
नो मेंस लैंड में धरने पर बैठे लोग
लाठीचार्ज होने से आक्रोशित लोग भारत- नेपाल सीमा के बीच में स्थित नो मेंस लैंड पर धरने पर बैठे गए। उनका कहना है कि जब तक नेपाल सरकार उन्हें अपने देश में प्रवेश नहीं देगी उनका धरना जारी रहेगा।
सील है भारत-नेपाल सीमा
कोरोना वायरस को लेकर भारत नेपाल सीमा सील है। नेपाल सरकार ने भारत से आने वाले अपने देश के नागरिकों पर भी पाबंदी लगा दी है। सोमवार की रात सोनौली सीमा से नोमेंस लैंड पर पहुंचे करीब 300 लोगों ने नेपाल में दाखिल होने के लिए हंगामा शुरू कर दिया। जिसके चलते सोनौली सीमा पर दोनों देशों की तरफ से बड़ी संख्या में पुलिस मौके पर पहुंच गई। इस दौरान नेपाली प्रहरी दल ने अपने ही  देश के नागरिकों पर जमकर लाठियां भांजी। सीमा पर फंसे लोगों का कहना है कि जब हमें भारत सरकार ने नेपाल बार्डर तक पहुंचा दिया तो हमारी सरकार  क्यों प्रवेश नहीं दे रही है। लाठीचार्ज से नाराज लोगों ने नो मेंस लैंड को जाम कर दिया  है। उनके द्वारा  नेपाल पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी गई।
सरकार के आदेश का इंतजार
नेपाल पुलिस के बेलहिया इंस्पेक्टर ईश्वरी अधिकारी ने बताया कि जब तक सरकार का कोई आदेश नहीं आएगा तब तक भारत के विभिन्न शहरों से आए नेपाल नागरिकों को दाखिल नहीं होने दिया जाएगा। सीमा पर तनाव को देखते हुए मौके पर पहुंचे एसडीएम नौतनवा जसधीर सिंह और सीओ राजू कुमार साव ने कहा की सीमा पर पर्याप्त पुलिस फोर्स तैनात की गई है ।
चीनी कामगारों और ग्रामीणों में झड़प, लगे वापस जाओ के नारे
काठमांडू। नेपाल में कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए लगाए गए लॉकडाउन के उल्लंघन के चलते एक हाइड्रोपावर प्लांट के चीनी कर्मचारियों और स्थानीय ग्रामीणों के बीच झड़प हो गई। चीनी कर्मचारियों की हरकत से भड़के ग्रामीणों ने वापस जाओ के नारे लगाए। स्थानीय मीडिया के अनुसार, नेपाल के लमजुंग इलाके में एक चीनी कंपनी न्यादी हाइड्रोपावर प्लांट का निर्माण कर रही है। हाल में इस कंपनी के कई कर्मचारी चीन से लौटे थे। इसको लेकर नाराज चल रहे स्थानीय लोगों ने लॉकडाउन के मद्देनजर गैरजरूरी आवाजाही रोकने के लिए गांव के प्रवेश मार्ग पर अवरोध लगा दिया था। 
Share on Google Plus

About CR Team

Dainik Chamakta Rajasthan to provide lightning fast, reliable and comprehensive informative information to our visitors in the form of news and articles.

0 comments:

Post a comment